इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रयागराज के वर्तमान और पूर्व डीआईओएस के खिलाफ दिया जांच का आदेश

Share this news

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रयागराज के पूर्व डीआईओएस पर सहायक अध्यापक को प्रवक्ता पद पर गलत तरीके से प्रोन्नति देने और वर्तमान जिला विद्यालय निरीक्षक पर गलत तरीके से प्रोन्नति आदेश रद्द करने के मामले में जांच करने का निर्देश दिया है।

पूर्व डीआईओएस महेंद्र सिंह ने याची को 15 अक्टूबर 2013 को प्रवक्ता का ग्रेड दिया। बाद में वर्तमान जिला विद्यालय निरीक्षक आर एन विश्वकर्मा ने पूर्व डीआईओएस के आदेश को गलत करार दिया। वर्तमान डीआईओएस के मुताबिक याची शासनादेश में दी गई अर्हता को पूरी नहीं करता है।

शासनादेश के मुताबिक याची को कक्षा 11 और 12 में पढ़ाने का कम से कम दस वर्ष का अनुभव होना चाहिए। कोर्ट ने इस पर अपर निदेशक माध्यमिक को कहा है कि वह दोनों अधिकारियों के खिलाफ जांच कर बताएं कि इसमें कौन सही है। यह आदेश जस्टिस सिद्धार्थ की एकलपीठ ने दिया है।

भाषा इनपुट हिन्दुस्थान समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!