कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने भगवतपुर में 100 बेड अस्पताल का लोकार्पण किया

Share this news

प्रयागराज । देश की आजादी के बाद से 70 सालों से विधानसभा शहर पश्चिमी के 56 गांव के लोगों को विकास के लिए 50 किमी दूर शहर पार करके कौड़िहार जाना पड़ता था। इन 5 सालों में इतिहास और भूगोल बदला है।

यह बातें कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने ग्राम भगवतपुर में सरदार बल्लभ भाई पटेल 100 शैय्या अस्पताल का लोकार्पण के अवसर पर कहीं।

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि भगवतपुर में खेल का स्टेडियम भी बनेगा। जहां पर 5 बीघा जमीन को अतीक अहमद के गुर्गों ने कब्जा कर लिया था, खाली करा ली गई है। अब उक्त जमीन पर युवाओं को खेल की प्रतिभा दिखाने के लिए स्टेडियम बनेगा।

कहा कि जाति और धर्म के नाम पर हमने वोट दिए हैं, यही कारण था विकास की किरण शहर पश्चिमी में नहीं पहुंच पाई थी। 2017 में मैंने कहा था जाति बोयेंगे तो जाति काटोगे। धर्म बोयेंगे धर्म काटोगे और विकास बोयेंगे तो विकास काटोंगे।

उन्होंने कहा बमरौली क्लस्टर के तहत सौ करोड़ में 4 पार्क, ई रिक्शा स्टैंड,10 तालाब का सौंदर्यीकरण, भगवतपुर में एक मिनी बस स्टैंड बन गए हैं। किसानों के लिए भूमि उपलब्ध हो गए हैं। उसमें सब्जी मंडी बनेगा, मल्टीपरपज हाल भी बनेंगे, जिसमें किसानों को बीज का केंद्र होगा।

मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा बालिकाओं की शिक्षा के लिए भी जल्द राजकीय बालिका इंटर कॉलेज स्थापित होंगे। गांजा गांव में भेड़ पालकों का जीविकोपार्जन केंद्र ऊन प्रोसेसिंग फैक्ट्री होगी। जहां भेड़ के ऊन का धागा बनकर उत्तर प्रदेश के 7 कम्बल फैक्ट्री में जायेगा। उन्होंने आगे कहा चुनाव में मुखौटा लगाकर कई लोग जाति व विशेष वर्ग धर्म के नाम पर गुमराह करेंगे।

मगर उनके पीछे अतीक अहमद एंड कंपनी होगी, पहचान लेना। मैंने 40 साल का शहर पश्चिमी के इतिहास को बदलकर 5 सालों में विकास का नया इतिहास और भूगोल बनाया है। शहर और गांव के बीच दूरी कम किया हैं। मोदी और योगी की कृपा से अतीक अहमद एंड कंपनी के खिलाफ बुलडोजर का चक्र चला है वह भी नहीं रुकेगा।

सांसद फूलपुर श्रीमती केसरी देवी पटेल ने कहा सरदार वल्लभ भाई पटेल ने कई रियासतों को जोड़ नए भारत का निर्माण किया था। उसी तरह मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने शहर पश्चिमी में कई विकास की कड़ी को जोड़कर विकास वाली पहचान का नया विधानसभा शहर पश्चिमी बना दिया है। क्षेत्र में विकास का पहिया न रुकने पाए उसके लिए कमल का फूल फिर से खिलाना होगा। प्रयागराज को विकास के रूप में प्रदेश से जोड़कर मजबूत बनाना होगा।

इसके पूर्व सांसद केसरी देवी पटेल, सिद्धार्थ नाथ सिंह धर्मपत्नी सहित ने विधि विधान के साथ पूजा अर्जन कर 100 शैय्या अस्पताल का लोकार्पण कर जनता को समर्पित किया। तदुपरांत नवनिर्मित अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कुंभ मेले में लगे 100 बेड अस्पताल की सराहना आस्ट्रेलिया और जर्मनी के राजदूत ने किया था।

सीएमओ डॉ नानक सरन ने बताया कि तीसरी लहर से निपटने के लिए ऑक्सीजन प्लांट भी स्थापित हुआ है। हर बेड से ऑक्सीजन पाइप से जोड़ा गया है। जहां डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, नर्स एवं फार्मासिस्ट आदि तैनात किए गए है। जहां पर ओपीडी के साथ हर इलाज की सुविधाएं होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!