राशन कार्ड सरेंडर व रिकवरी के खिलाफ भड़के कांग्रेसी

Share this news

प्रयागराज: अपात्रों से राशन कार्ड रिकवरी कराने की खबर के बाद यूपी सरकार को स्पष्टीकरण जारी करना पड़ा है।

प्रदेश सरकार ने साफ किया है कि उसने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है। खाद्य एवं रसद आयुक्त सौसभ बाबू ने कहा है कि उनकी तरफ से अपात्रों से राशन कार्ड सरेंडर कराने या उनसे रिकवरी कराने के संबंध में कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। राशन कार्ड का सत्यापन एक नियमित प्रक्रिया है। बुधवार को सिविल लाइन्स स्थित धरना स्थल पर जुटे जिला शहर कांग्रेस के संयुक्त कार्यकर्ताओं ने इसके खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।

जिला कांग्रेस कमेटी के गंगापार अध्यक्ष सुरेश यादव और यमुनापार अध्यक्ष अरुण तिवारी ने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार और उनके अधिकारी राशन कार्ड के मुद्दे पर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। इस मुद्दे को लेकर लोगो मे भ्रम की स्थिति बनी हुई है। लोग लाइन में लगकर राशन कार्ड सरेंडर कर रहे हैं। प्रदेश महासचिव मुकुन्द तिवारी ने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से कथित तुगलकी फरमान जारी किया गया है।

सरकार चुनाव में फ्री राशन का भाषण देकर सत्ता हासिल कर लिया लेकिन अब वादे से मुकर रही है। कांग्रेसियो ने राज्यपाल संबोधित दो सूत्रीय मांग पत्र अपर जिलाधिकारी द्वितीय को सौंपकर इस प्रकरण की जांच और दोषियों पर कार्यवाही किये जाने की मांग की।

प्रदर्शन के दौरान: अरुण तिवारी, सुरेश यादव, मुकुन्द तिवारी, संजय तिवारी, करमचंद बिंद, हसीब अहमद, फ़ुजैल हाशमी, आशीष पाण्डेय, सिद्धनाथ मौर्य, मनोज पासी, विवेक पाण्डेय, दिनेश सोनी, मो०हसीन, मो०असलम, विजय यादव, दत्तात्रेय त्रिपाठी, राकेश पटेल, विनय कृष्ण पाण्डेय, इशरत अली, विनय पाण्डेय समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!