माहे रमज़ान के आखरी जुमा पर मस्जिदों के अन्दर ही पढ़ी गई जुम्मतुल विदा की नमाज़

Share this news

प्रयागराज शहर भर की सभी छोटी बड़ी मस्जिदों के साथ चौक जामा मस्जिद ,चक शिया जामा मस्जिद ,रौशनबाग़ की शाह वसीउल्लाह मस्जिद मे अहले इसलाम के बाशिन्दों ने बारगाहे खुदावन्दी मे जुम्मतुल विदा की खास नमाज़ मे बारगाहे इलाही मे सजदा कर पेश इमाम की पीछे खड़े हो कर नमाज़ अदा की।

चौक की जामा मस्जिद मे न्यायालय व शासन प्रशासन की गाईड लाईन पर अमल करते हुए इमाम रईस अख्तर हबीबी की क़यादत मे मस्जिद के अन्दूरुनी हिस्से मे ही जुम्मतुल विदा की नमाज़ अदा की गई।वहीं शाह वसीउल्लाह की मस्जिद रौशनबाग़ मे पेश इमाम मौलाना अहमद मकीन की क़यादत में सैकड़ो लोगों ने एक सफ मे सजदा ए परवरदिगार अन्जाम दिया।चक शिया जामा मस्जिद मे भी इस बार सड़क पर नमाज़ नहीं हुई।

शिया जामा मस्जिद के इन्तेज़ामकारों व मुतावल्ली ने पहले ही क़ौमो मिल्लत को संदेश भेज कर सड़क पर नमाज़ नही होने के हालात से आगाह कर दिया था।शिया जामा मस्जिद के पेश इमाम हसन रज़ा ज़ैदी ने ११:५९ पर अज़ान के बाद खुत्बे मे माहे रमज़ान और जुम्मतुल विदा की फज़ीलत बयान की।एक घन्टा चले खुत्बे के बाद लगभग १ बजे जमात खड़ी हुई।बड़ी संख्या में लोगों ने बाजमात नमाज़ पढ़ी।

मस्जिद खदीजा करैली मे मौलाना सैय्यद रज़ी हैदर की क़यादत मे जुम्मतुल विदा की नमाज़ अक़ीदत व ऐहतेराम के साथ अदा की गई।मौलाना ने लगभग एक घन्टा उसूले दीन फुरुए दीन सहित तमाम मज़हबी अहकामात का अपने खुत्बे मे ज़िक्र किया।मस्जिद खदीजा के मुतावल्ली हसन आमिर ने चक जामा मस्जिद मे सड़क पर नमाज़ न होने की दशा मे मस्जिद खदीजा मे मस्जिद के अन्दूरुनी हिस्से मे क़ालीन के फर्श और जानमाज़ के अलावा मस्जिद के खुले हिस्से मे टेन्ट लगवा कर दरी फर्श जानमाज़ के साथ सिजदगाह का भी अलग से ऐहतेमाम कर रखा था।ताकि नमाजियों को किसी प्रकार की दिक़्क़त का सामना ना करना पड़े।

दायरा शाह अजमल की खानकाह मस्जिद मे पेश इमाम शमशेर आज़म की इमामत मे नमाज़ जुम्मतुल विदा अदा की गई।

उम्मुल बनीन सोसाईटी के महासचिव सैय्यद मोहम्मद अस्करी के अनुसार करैली ,करैलाबाग़ ,अकबरपूर ,
रसूलपूर ,अटाला ,बैदन टोला ,दरियाबाद ,हसन मंज़िल ,समदाबाद , रानीमण्डी ,बख्शी बाज़ार ,दायरा शाह अजमल ,सब्ज़ीमण्डी ,बरनतला ,शाहनूर अलीगंज ,बादशाही मण्डी ,कटरा ,राजापूर ,धोबीघाट,सिविल लाईन्स ,पाँचो पीर मज़ार ,बहादुरगंज ,बड़ा व बुड्ढ़ा ताज़िया ,हटिया ,अहमदगंज ,नैनी,चकदोंदी ,चिकवन टोला ,मिन्हाजपूर ,काटजू रोड आदि जगहों पर दिन मे बाराह बजे से दो बजे तक जुम्मतुल विदा की नमाज़ अदा कराई गई।

शिया समुदाय की शहर की दो मस्जिदों के अलावा जमुनापार के दाँदूपूर शहर पश्चिमी के प्रीतमनगर ,सैदपूर ,बिसौना तथा गंगापार के फूलपूर ,सेवईत ,कोराली मे पेश इमामो के साथ बड़ी संख्या मे रोज़ादारों ने बाजमात नमाज़ अदा की।मस्जिदों मे देश में अमन चैन , रोज़ी व रोज़गार मे बरकत , बिमारी से शिफायाबी ,हर बलाओं से महफूज़ रखने और हलाल कमाई मे इज़ाफा के साथ नेक अमल और बेहतरीन किरदार अमली की बारगाहे रब्बुल इज़्ज़त मे गिड़गिड़ा कर दूआ मांगी।

क़िबला ए अव्वल बैतुल मुक़द्दस की आज़ादी को बाहों पर काली पट्टी बाँध कर नमाज़ियों ने किया ऐहतेजाज

मस्जिदे खदीजा करैली व चक जामा मस्जिद मे विश्व यौमे क़ुद्स दिवस के अवसर पर नमाज़ियों ने बाहों पर काली पट्टी बाँध कर इस्राईल की बरबरता अमेरीका की दादागीरी और क़िब्ला ए अव्वल बैतुल मुक़द्दस की आज़ादी की आवाज़ बुलन्द करते हुए ऐहतेजाज किया और इस्राईल व अमेरीका मुर्दाबाद का नारा बुलन्द किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!