मुझे मेरे ससुर व देवर से बचाओ

Share this news

संगम नगरी प्रयागराज में एक ऐसा मामला सामने आया है । जिसे सुन कर आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे ।

पूरा मामला सोरांव थाना क्षेत्र सेवईत गांव का जहा है सुनीता का विवाह ब्रिजेश कुमार कुशवाहा से लगभग दस वर्ष पूर्व हुआ था । शादी के बाद सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन 07.05.2016 को संदिग्ध परिस्थितियों में ब्रिजेश की मौत हो गई और सुनीता पति के चले जाने से बाद अपने 8 साल के बेटे के लिए मेहनत मजदूरी करने के जीवन यापन करने लगी।

सुनीता के मां – बाप की भी मौत हो चुकी है । पति के मौत के पश्चात ससुर बृज लाल व देवर बृजेंद्र कुमार उस पर गलत नीयत रखने लगे और आए दिन प्रताड़ित करने लगे और आए दिन मारपीट करने लगे। सुनीता तंग आकर ससुर व देवर के खिलाफ 23.12. 2018 को सोरांव थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया जिसका अपराध संख्या 1273/2018 है।

मुकदमा दर्ज होने के बाद सुनीता को उसके पति के घर से मारपीट कर बाहर निकाल दिया और उसके पति के संपत्ति पर कब्जा कर लिया मांगने पर जान से मारने की धमकी देते हैं जिससे सुनीता दर – दर को भटकने को मजबूर हो गई है।

बृज लाल गायत्री माता मंदिर का पुजारी है, गलत हरकतों के चलते कई बार मंदिर से निकाला जा चुका है लेकिन जबरन गुंडई करके मंदिर पर भी कब्जा कर लिया है । ससुर व देवर से हरकतों से तंग आकर एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!