अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नन्दी ने मदरसों में ऑनलाइन शिक्षा शुरू करने के दिए आदेश

Share this news

उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन, अल्पसंख्यक कल्याण राजनीतिक पेंशन, मुस्लिम वक्फ एवं हज मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने आज अन्य शिक्षा बोर्डों की भांति मदरसा शिक्षा परिषद के अधीन संचालित मदरसों में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू कराने की स्वीकृति प्रदान की। अब जल्द ही मदरसों के कक्षा एक से आठ, कक्षा 9 से 12 तक एवं कामिल – फाजिल की कक्षाओं में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू होंगे। जब तक मदरसों को भौतिक रूप से शुरू कराने की स्थिति नहीं बनती है, तब तक नियमित ऑनलाइन पढ़ाई के पठन पाठन की अनुमति होगी। इसके लिए मदरसा शिक्षण परिषद से मान्यता प्राप्त सभी मदरसों को अनुमति प्रदान कर दी गई है। जिसका लाभ हजारों छात्रों को मिलेगा।
कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार आ रही कमी को देखते हुए छात्र हित एवं शैक्षिक सत्र को नियमित किए जाने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद से मान्यता / सहायता प्राप्त मदरसों में कक्षा 9 से 12 तक की कक्षाओं व कामिल फाजिल की कक्षाओं में ऑनलाईन कक्षाओं को पुनः संचालित करने के आदेश दिए।
मंत्री नन्दी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री आदरणीय योगी आदित्यनाथ जी के अथक प्रयास और मार्गदर्शन से आज उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों में भारी कमी आई है। ट्रिपल टी के अदभुत प्रयोग से आज प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत 94.7 प्रतिशत है। जिसकी सराहना डबल्यू एच ओ ने भी की है। कोरोना संक्रमण के पॉजिटिविटी दर में भारी कमी को देखते हुए ही मदरसों में ऑनलाइन शिक्षण कार्य शुरू कराने का निर्णय लिया गया है।
कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते लगे लॉकडाउन के कारण मदरसा बंद होने के कारण अब मदरसों में भी आनलाइन पढ़ाई शुरू होगी।
मदरसों का कोर्स पूरा करने के लिए मदरसा ऑनलाइन शिक्षा व्यवस्था काफी सहायक साबित होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW