आर्टिकल 370 हटने के बाद PM मोदी की अगुवाई में बड़ी बैठक

Share this news

जम्मू-कश्मीर को लेकर गुरुवार को होने जा रही बड़ी बैठक पर हर किसी की नज़र है. इस मीटिंग की अगुवाई खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं. अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद ये सबसे बड़ी राजनीतिक हलचल है, ऐसे में केंद्र सरकार की ओर से जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व उप-मुख्यमंत्री और राजनीतिक दलों के प्रमुखों को बुलाया गया है.

पीएम मोदी के साथ इस मीटिंग में कौन-कौन शामिल हो रहा है, उनके बारे में क्या चीज़ अहम है. एक नज़र डाल लीजिए…

पूर्व मुख्यमंत्री
• फारूक अब्दुल्ला: जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री, नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष. पूर्व केंद्रीय मंत्री और मौजूदा सांसद.
• उमर उब्दुल्ला: जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री, नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष. पूर्व केंद्रीय मंत्री.
• महबूबा मुफ्ती: पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की प्रमुख, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री. भाजपा के साथ सरकार भी चला चुकी हैं.
• गुलाम नबी आजाद: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री. जम्मू-कश्मीर के पहले ऐसे मुख्यमंत्री जो जम्मू क्षेत्र से आते थे. पूर्व में केंद्रीय मंत्री भी रहे हैं.

पूर्व उप-मुख्यमंत्री
• कविन्दर गुप्ता: भाजपा के वरिष्ठ नेता, पूर्व में उप-मुख्यमंत्री भी रहे. भाजपा-पीडीपी की सरकार में डिप्टी सीएम का पद संभाला था, जम्मू-कश्मीर विधानसभा के स्पीकर भी रह चुके हैं.
• निर्मल सिंह: सीनियर बीजेपी लीडर, पूर्व में उपमुख्यमंत्री भी रहे. भाजपा-पीडीपी सरकार में डिप्टी स्पीकर रहे थे, बाद में स्पीकर बना दिए गए थे.
• तारा चंद: वरिष्ठ कांग्रेस नेता, पूर्व में उपमुख्यमंत्री रहे थे. साल 2009 से 2014 के बीच कांग्रेस-नेशनल कॉन्फ्रेंस की सरकार में डिप्टी सीएम रहे. इससे पहले स्पीकर पद पर भी काबिज रहे थे.
• मुजफ्फर हुसैन बेग: पीपल्स कॉन्फ्रेंस के नेता, पूर्व में डिप्टी सीएम रहे हैं. गुलाम नबी आजाद जब सीएम थे, तब पीडीपी में रहते हुए हुसैन बेग डिप्टी सीएम बने थे. पूर्व में लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं, पद्म भूषण से सम्मानित हैं.

और कौन बैठक में शामिल हो रहा है?
• रविन्दर रैना: जम्मू-कश्मीर बीजेपी के अध्यक्ष, जम्मू-रीजन में बीजेपी के बड़े चेहरे बनकर उभरे हैं.
• गुलाम अहमद मीर: दक्षिण कश्मीर से कांग्रेस के नेता, जो सबको साथ लेकर चलने के लिए जाने जाते हैं.
• सज्जाद लोन: पीपल्स कॉन्फ्रेंस के प्रमुख. पूर्व में अलगाववादी नेता रहे हैं, लेकिन बाद में मेनस्ट्रीम में वापस लौटे. विधायक चुने गए थे, पीडीपी-बीजेपी की सरकार में मंत्री भी बने.
• अल्ताफ बुखारी: जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के प्रमुख
• मोहम्मद युसूफ तरिगामी: सीनियर सीपीएम लीडर
• प्रोफेसर भीम सिंह: जम्मू-कश्मीर पैंथर्स पार्टी के प्रमुख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW