इंदौर: इंजीनियरिंग कर रही छात्रा ने गला काटकर की आत्महत्या

Share this news

मध्य प्रदेश के इंदौर से एक इंजीनियरिंग छात्रा के गला काटकर आत्महत्या करने का मामला सामने आया है. छात्रा के पिता ओमप्रकाश एसी रिपेयरिंग और इंस्टालेशन का काम करते हैं. उन्होंने बताया कि घर पर फर्नीचर रिपेयर करने के लिए एक कारीगर को बुलाया था. उसने रिपेयरिंग का सामान रखा और मजदूर को लेने चला गया. जब घर पर मौजूद उनकी दूसरी बेटी मोनिक बॉथरूम से नहाकर निकली तो दीवारों और फर्श पर खून देखकर चौंक गई.

मृतका के पिता ने बताया कि बहन की खून से लथपथ लाश और कटा हुआ सिर देखकर उनकी बेटी जोर- जोर से चिल्लाने लगी. शव के पास कटर रखा था और उसका तार प्लग में लगा था, जिससे उसने अपना गला काटा. पिता ने बताया कि सूचना मिलते ही जब वो घर पर पहुंचे तो उनकी बेटी तड़प रही थी. ऐसा लग रहा था कि वो कुछ कहना चाहती है, लेकिन गला कटने से उसकी आवाज ही नहीं निकली रही थी. थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो गई. फिर पुलिस को सूचना दी गई.

छात्रा ने गला काट कर की आत्महत्या

मौके पर पहुंचकर पुलिस को पूछताछ में पता चला कि मृतक छात्रा माइग्रेन से परेशान थी. उसका इलाज भी चल रहा था. रिश्तेदारों ने पुलिस को बताया कि लॉकडाउन के बाद से प्राइवेट फॉर्म भरकर सिविल इंजीनियर की पढ़ाई कर रही थी. परिवार में दो बहनें और हैं. छात्रा ने आत्महत्या क्यों की इस मामले की जांच की जा रही है.

पुलिस मामले की जांच में जुटी

बताया जा रहा है कि 20 साल पहले मां की मौत के बाद पिता ने ही सारी जिम्मेदारी संभाली. तीन साल पहले भाई की कैंसर से मौत हो गई थी. उसे कुछ समय पहले माइग्रेन की शिकायत हुई थी. उसका इलाज चल रहा था. जांच अधिकारी आर पी मालवीय ने बताया कि उसने खुद गला काटा है, इसकी जांच चल रही है. शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!