उन्नाव कांड में पुलिस का खुलासा, प्रेम संबंध से इनकार पर हत्या, कीटनाशक मिला पानी पीने से मौत

Share this news

उन्नाव में दलित परिवार की दो लड़कियों की संदिग्ध मौत के मामले में यूपी पुलिस प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही है. शुक्रवार को पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले गुरुवार को पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया था. हालांकि अब तक की पूछताछ में क्या मालूम चला है इसको लेकर पुलिस बता रही है.

उन्नाव के डीएम रविंद्र कुमार ने कहा कि सीएम योगी ने मृतक लड़कियों के परिवार को 5 लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है. वहीं घायल लड़की को दो लाख रुपये की मदद देने की घोषणा की है. लड़की का इलाज सीएम सहायता कोष से मुफ्त होगा.

वहीं लखनऊ रेंज के आईजी लक्षमी सिंह ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि इस हत्या के सही कारणों का पता चल गया है. गिरफ्तार दो शख्स में से एक का नाम विनय है. आरोपी विनय की एक लड़की से दोस्ती थी. विनय ने पूछताछ में बताया कि वो एक लड़की से प्रेम करता था. उसने लड़की से मोबाइल नंबर मांगा था. लेकिन उसने फोन नंबर देने से मना कर दिया था.

विनय इस बात से बेहद नाराज हो गया था. जिसके बाद उसने सभी लड़कियों को पानी में कीटनाशक मिलाकर पिलाया था. फॉरेंसिक टीम ने मौके से कीटनाशक की बोतल बरामद की थी. दूसरा आरोपी विनय का दोस्त है. जिसने इस पूरे घटनाक्रम में उसकी मदद की थी. वह नाबालिग है.

लखनऊ रेंज के आईजी लक्षमी सिंह, उन्नाव के एसपी आनंद कुलकर्णी, डीएम उन्नाव रविंद्र कुमार ने मीडिया से बात करते हुए यह महत्वपूर्ण बातें बताई हैं.

दरअसल, उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत पाठकपुर के मजरे बबुरहा में इसी बुधवार को दोपहर 3:00 बजे के करीब बुआ और भतीजी खेत में पशुओं के लिए हरा चारा लेने गई थीं, लेकिन देर शाम तक घर नहीं लौटीं.

शाम में परिजन लड़कियों को खोजने के लिए निकले. परिजनों के मुताबिक, खेत में तीनों लड़कियां कपड़े से बंधी मरणासन्न हालत में मिली थीं. तीनों के मुंह से झाग निकल रहा था. जब उन्हें अस्पताल ले जाया गया तो दो मृत निकलीं, जबकि तीसरी की हालत गंभीर थी.

कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में भर्ती पीड़िता को लेकर आज शुक्रवार सुबह एक मेडिकल बुलेटिन जारी किया गया. अस्पताल के पीआरओ परमजीत सिंह का कहना है कि लड़की के शरीर में अब तक कोई हलचल नहीं हो रही थी, लेकिन अब हम जो इलाज कर रहे हैं, उसका सकारात्मक असर हो रहा है. वह हाथ-पैर हिला रही है. हम उम्मीद कर रहे हैं कि हम धीरे-धीरे लड़की को वेंटिलेटर सपोर्ट से हटाने की ओर बढ़ रहे हैं. 24 घंटे में रिस्पांस सामने आएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW