कंधार विमान अपहरण केस में बंधकों के बदले खुद को सौंपने को तैयार थीं ममता बनर्जी: यशवंत सिन्हा.

Share this news

बीजेपी की अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में वित्त मंत्री और विदेश मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा ने तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया है. आज कोलकाता में टीएमसी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद वे बीजेपी पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल का चुनाव पूरे देश को एक अहम संदेश देगा.

उन्होंने कहा कि कुछ समय से जैसा कहता आ रहा हूं, इस चुनाव के नतीजों के राष्ट्रीय असर होंगे. यह चुनाव पूरे देश को एक संदेश देगा. उन्होंने कहा कि ये चुनाव बीजेपी द्वारा शुरू किया गया अश्वमेघ यज्ञ है, जिसमें वे कोई विरोध बर्दाश्त नहीं करना चाहते हैं. इसे बंगाल में रोकना होगा. उन्होंने कहा कि वैसे एक बाहरी व्यक्ति की तरह टीएमसी में आता और यहां चुनाव प्रचार के बाद चला जाता, लेकिन इस बार तय किया गया कि पार्टी में शामिल होऊंगा अंदर से मदद करूंगा, ये उचित होगा.

कंधार अपहरणकांड पर यशवंत का सनसनीखेज खुलासा

तृूणमूल कांग्रेस में शामिल होने के बाद यशवंत सिन्हा ने कंधार अपरहणकांड पर एक सनसनीखेज खुलासा किया. उन्होंने कंधार घटना का जिक्र करते हुए कहा कि जब आतंकवादियों ने विमान का अपहरण कर लिया था, तो कैबिनेट में चर्चा हो रही थी. इस दौरान ममता बनर्जी ने खुद कहा था, कि उन्हें बंधक बनाकर आतंकियों के पास भेज दिया जाए, लेकिन शर्त ये होगी, कि बाकी यात्रियों को छोड़ दिया जाए. यशवंत सिन्हा ने कहा, ” ममता बनर्जी ने ऑफर किया कि वो स्वयं हास्टेज बनकर जाएंगी वहां पर…लेकिन शर्त ये होनी चाहिए कि बाकी जो बंधक हैं उनको आतंकवादी छोड़ दें. वो उनके कब्जे में चली जाएंगी. उनको जो कुर्बानी देनी पड़ेगी वो कुर्बानी वो देंगी देश के लिए.

वहीं ममता बनर्जी के साथ हुए हादसे को लेकर उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि यह एक सुनियोजित हमला था. शारारती तत्वों ने उन्हें चोटिल करने के लिए गाड़ी के दरवाजे का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा कि अब मैं और भी आश्वस्त हूं कि इस चुनाव में TMC प्रचंड बहुमत के लिए नेतृत्व कर रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW