केंद्र सरकार में होगा कैबिनेट विस्तार? PM मोदी ने अमित शाह और जेपी नड्डा से की मुलाकात

Share this news

संभावित कैबिनेट विस्तार की खबरों के बीच सूत्रों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनिंदा मंत्रालयों के प्रदर्शन की समीक्षा के लिए कई बैठकें की हैं. खासकर कोरोनावायरस की दूसरी लहर के दौरान यह मीटिंग की गईं. पीएम मोदी की आज (शुक्रवार) शाम गृह मंत्री अमित शाह  और BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ एक बैठक, मंत्रियों के प्रदर्शन की समीक्षा के आधार पर बड़े बदलावों का संकेत दे रही है.

अगले कुछ दिनों में एक बड़ी सामाजिक योजना की घोषणा की भी चर्चा है क्योंकि पार्टी उत्तर प्रदेश सहित अगले साल महत्वपूर्ण विधानसभा चुनावों के लिए तैयारी कर रही है.

प्रधानमंत्री ने गुरुवार को 7 मंत्रालयों के साथ अपने 7 लोक कल्याण मार्ग स्थित आवास पर पांच घंटे से अधिक समय तक बैठक की थी और कोविड संकट के दौरान उनके द्वारा किए गए कार्यों का आकलन किया. उन्होंने जिन केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात की, उनमें धर्मेंद्र प्रधान, प्रकाश जावड़ेकर और हरदीप पुरी शामिल थे.

यह समीक्षा बैठक प्रधानमंत्री की घोषणा के कुछ दिनों बाद हुई है. पीएम मोदी ने हाल ही में देश को संबोधित करते हुए कहा था कि केंद्र राज्यों से टीकाकरण का नियंत्रण वापस ले रहा है और 21 जून से 18 से ऊपर के सभी लोगों को मुफ्त में टीके उपलब्ध कराएगा.

सूत्रों ने बताया कि मीटिंग कल शाम 5 बजे शुरू हुई थी और रात 10 बजे तक चली. जेपी नड्डा भी इस बैठक में मौजूद थे. सातों मंत्रालयों ने अपने द्वारा लिए गए फैसलों के बारे में पीएम मोदी को विस्तृत रूप से जानकारी दी. पेट्रोलियम मंत्रालय, इस्पात मंत्रालय, जल शक्ति मंत्रालय, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारी उद्योग मंत्रालय और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय समीक्षाधीन थे.

आमतौर पर हर महीने कैबिनेट की बैठक के बाद मंत्रिपरिषद की बैठक होती है लेकिन इस बार स्वतंत्र रूप से यह बैठक हुई. भारत में कोविड की घातक दूसरी लहर और धीमी गति से टीकाकरण से निपटने के लिए पीएम मोदी की सरकार के खिलाफ आलोचनाओं को दूर करने के लिए बैठकें हो रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!