पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव पर मंत्री नन्दी ने प्राचीन मनोकामना पूर्ति मंदिर में किया रूद्राभिषेक*

Share this news

उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री एवं शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र से विधायक नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी बहादुरगंज स्थित प्राचीन मनोकामनापूर्ति मंदिर में अपनी पत्नी व प्रयागराज की महापौर श्रीमती अभिलाषा गुप्ता नन्दी व परिवार के सदस्यों के साथ भगवान भोलेनाथ का रूद्राभिषेक कर पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव मनाया।

कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए पिछले वर्ष की तरह भी इस वर्ष भी आयोजन को बहुत ही सीमित रखते हुए केवल पूजन-अर्चन किया गया। लाखों लोगों ने मंत्री नन्दी को फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम के साथ ही वाट्सएप व अन्य ऑनलाइन माध्यमों के जरिये, बधाई दी। उनके दीर्घायु व स्वस्थ जीवन की कामना की। वहीं पूरे प्रदेश में वैश्य समाज के लोगों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी के पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव को व्यापारी साहस दिवस के रूप में मनाया गया। सभी जनपदों में पूजन-अर्चन के साथ ही विभिन्न आयोजन हुए।


मंत्री नन्दी ने रुद्राभिषेक के बाद कहा कि भगवान भोलेनाथ का आशीर्वाद और लोगों का स्नेह ही है कि वे अपना पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव मना रहे हैं। नहीं तो 11 वर्ष पहले आज ही के दिन गुंडों और माफियाओं ने कुछ अलग ही प्लानिंग कर रखी थी। पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव पर लाखों लोगों का स्नेह और आशीर्वाद मिलता रहा है। मंत्री नन्दी ने कहा कि इस समय पूरा देश वैश्विक महामारी कोरोना वायरस की चपेट में है और पूरी दुनिया में लाखों लोगों ने अपनी जान गंवा दी है। ऐसे में किसी भी प्रकार का आयोजन और भीड़भाड़ सार्वजनिक हित में नहीं है।

आज पूरे देश भर से लाखों लोगों का सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों से फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर स्नेह और आशीर्वाद प्राप्त हुआ। इसके लिए मंत्री ने सबका हृदय से आभार प्रकट किया। कहा कि लोगों का स्नेह, आशीष और समर्थन ही मेरी ताकत है। यह प्यार और आशीर्वाद सदैव बना रहे, यही ईश्वर से प्रार्थना करता हूं।
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष्ज्ञ एवं एमएलसी लक्षमण आचार्य जी एवं भाजपा यमुना पार प्रभारी ओमकार केशरी जी ने मंत्री नन्दी के आवास पर पहुंच कर पुनप्राप्ति जन्मोत्सव की बधाई दी।
कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए जहां कुछ लोगों की मौजूदगी में मंत्री नन्दी ने रूद्राभिषेक कर पूजन-अर्चन किया। वहीं प्रयागरा शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के पांचों मंडल में दर्जनों स्थानों पर मंत्री नन्दी के दीर्घायु की कामना के साथ रूद्राभिषेक व अन्य आयोजन हुए। मीरापुर, चौक, कीडगंज, मुट्ठीगंज के साथ ही नैनी मंडल में शिव मंदिरों पर आयोजन हुए। 

फिर ताजा हुई खौफनाक यादें, रिमोट बम से हमले में दहला था जिला
10 साल पहले आज ही के दिन संगमनगरी रिमोट बम से हमले की वारदात से दहल उठा था। कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्त नंदी पर हमले से न सिर्फ जिला बल्कि लखनऊ तक हिल गया था। मामले में 50 से ज्यादा लोगों की गवाही हो चुकी है और एमपीएमएलए कोर्ट में लगातार सुनवाई चल रही है।


12 जुलाई 2010 को कोतवाली थाना क्षेत्र के बहादुरगंज में घटना हुई थी। बसपा सरकार में तत्कालीन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर रिमोट से विस्फोट कर जानलेवा हमला किया गया था। जिसमें घायल राकेश मालवीय और पत्रकार विजय प्रताप सिंह की मौत हो गई थी।

प्रकरण में विवेचना के बाद पूर्व विधायक विजय मिश्रा, दिलीप मिश्रा सहित 16 अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है। जिसमें से एक राजेश पायलट की मौत हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!