भारत ने SFDR टेक्‍नोलॉजी की ‘ताकत वाली’ मिसाइल का किया सफल परीक्षण

Share this news

नई दिल्ली : डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशन (DRDO) ने शुक्रवार को ओडिशा स्थित परीक्षण रेंज से सॉलिड फ्यूल डक्टेड रैमजेट (SFDR) प्रौद्योगिकी की मदद से मिसाइल का सफल परीक्षण किया. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. DRDO की ओर से कहा गया है कि इस परीक्षण के दौरान ग्राउंड बूस्टर मोटर समेत सभी उप प्रणालियों ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन किया. गौरतलब है कि SFDR प्रौद्योगिकी के सफल परीक्षण प्रदर्शन से DRDO को हवा से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइलों को विकसित करने में सहायता मिलेगी.

डीआरडीओ के मुताबिक, वर्तमान में चुनिंदा देशों के पास ही यह प्रौद्योगिकी उपलब्‍ध है. उन्होंने कहा कि ओडिशा के चांदीपुर के एकीकृत परीक्षण रेंज से शुक्रवार सुबह करीब 10:30 बजे यह परीक्षण किया गया. सूत्रों ने बताया कि परीक्षण के दौरान डीआरडीओ की विभिन्न प्रयोगशालाओं के वरिष्ठ वैज्ञानिकों ने इसकी निगरानी की. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने DRDO के वैज्ञानिकों और वायु सेना को इस सफल परीक्षण के लिए बधाई प्रेषित की है. सूत्रों ने बताया कि रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी ने भी उड़ान परीक्षण में शामिल टीम के सदस्यों को बधाई दी है. (भाषा से इनपुट)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!