यूपी में जारी हुई कोरोना की नई गाइडलाइन.

Share this news

देश के कई राज्यों कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने नई गाइडलाइंस जारी की हैं. मुख्य सचिव ने सभी जिलाधिकारियों, मंडलायुक्तों, सभी मुख्य चिकित्साधिकारियों को पत्र लिखकर निर्देश जारी किए हैं, जिसमें कहा गया है कि कोविड से ज़्यादा प्रभावित राज्यों से हवाई मार्ग और रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों का एयरपोर्ट पर ही एंटीजन टेस्टिंग की व्यवस्था हो और लक्षण मिलने पर RTPCR जांच के लिए नमूने भेजे जाएं.

दस्तक अभियान के तहत घर-घर जाकर टेस्टिंग के कार्य कर रहे फ्रंटलाइन वर्कर्स से प्रतिदिन इस विषय में जानकारी ली जाए, जहां देश के अलग-अलग राज्यों के लोग बड़ी संख्या में हाल के दिनों में आए हैं. भीड़भाड़ वाली जगहों पर सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क समेत कोविड के प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जाए.

दूसरी ओर, गाजियाबाद में अब 25 मई तक 144 धारा लागू कर दी गई है. बढ़ते कोरोना और त्योहारों का हवाला देते हुए यह कदम उठाया गया है. गाजियाबाद में सभी मॉल, स्कूलों और सभी महत्त्वपूर्ण जगहों पर बिना मास्क के एंट्री नहीं दी जाएगी. हालांकि लॉक डाउन के दौरान से ही 144 धारा लागू है, जिसकी डेट आगे बढ़ाई जाती है. लिहाजा एक बार फिर बढ़ाई गई है. इन सबका कोई खास असर गाजियाबाद में देखने को नहीं मिलता, ये महज एक खानापूर्ति बनकर रह गया है.
कोरोना का कहर यूपी में जेलों में भी देखने को मिल रहा है. कानपुर जेल में 10 कैदियों को कोरोना वायरस होने के बाद जेल के डीजी ने आदेश दिया है कि सभी संक्रमित मरीज जेल की कोरोना बैरक में रखे जाएंगे. पूरी जेल को सैनिटाइज करवाया जा रहा है. गौरतलब है कि चौबेपुर अस्थाई जेल से 10 कैदी मुख्य जेल लाए गए थे. इसके बाद मुख्य जेल में जांच हुई, जिसमें उनके कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई. इस दौरान जेल में डीएम, सीएमओ सहित जिले के आला अधिकारी मौजूद रहे. अब हर बंदी की जांच की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW