Share this news

30 KG सोना, मर्सडीज कार, 3 लॉकर, ACB के छापे में इंजीनियर के घर मिली अकूत दौलत

राजस्थान में एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) की भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ मुहिम जारी है. जयपुर, जोधपुर और चित्तौड़गढ़ में तीन अफ़सरों के 14 ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई की जा रही है. जयपुर में जयपुर विकास प्राधिकरण (JDA) के इंजीनियर निर्मल गोयल के घर आय से 1450% ज़्यादा संपत्ति मिली है.

बताया जा रहा है कि JDA के इस इंजीनियर की सैलरी डेढ़ लाख है, लेकिन जयपुर की पॉश कॉलोनी में चार आवास, फार्म हाउस के अलावा घर पर 3 लाख 87 हजार नगद, तीस किलो सोना, 245 यूरो, दो हजार डॉलर और मर्सिडीज समेत 5 महंगी कारें मिली हैं. जबकि तीन बैंकों में इस इंजीनियर के लॉकर भी हैं, जिसे खोला जाना बाक़ी है.

इसी तरह से चित्तौड़गढ़ में जिला परिवहन अधिकारी मनीष शर्मा के पास क़रीब दो करोड़ के निवेश के कागजात मिले हैं.फ़्लैट में एक लाख रुपये नगद और विदेशी यात्राओं के दस्तावेज़ एंटी करप्शन ब्यूरो ने ज़ब्त किए हैं. महंगी बाइक और गाड़ियां बरामद की गईं हैं.

वहीं, जोधपुर में इंस्पेक्टर प्रदीप शर्मा के घर पर एंटी करप्शन ब्यूरो ने छापा मारकर जोधपुर भोपाल और बीकानेर के 4 ठिकानों से साढ़े चार करोड़ का निवेश का पता लगाया. ये संपत्ति आय से 333% ज़्यादा है. सूरसागर थाना में तैनात इंस्पेक्टर के पास जोधपुर में ज़मीन, भोपाल गढ़ में 10 बीघा जमीन, स्कूल के अलावा तीन बसें मिली हैं.

गौरतलब है राजस्थान में पिछले कुछ दिनों से एसीबी का एक्शन जारी है. बीते हफ्ते ही एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने जयपुर में लेबर कमिश्नर प्रतीक जागड़िया को तीन लाख रुपये घूस लेते हुए गिरफ़्तार किया था. इस कार्रवाई में दो और लोगों को भी एंटी करप्शन ब्यूरो ने दबोचा था. साथ ही एंटी करप्शन ब्यूरो ने भरतपुर पुलिस अधिकारी निरीक्षक सुरेंद्र सिंह को भी डेढ़ लाख रुपये रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार किया है.

(भाषा इनपुट aajtak से)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!