जिला अल्पसंख्यक अधिकारी और डीआरडीए कर्मियों को CDO प्रयागराज ने दी कठोर चेतावनी

Share this news

प्रयागराज: मुख्य विकास अधिकारी शिपू गिरि ने विकास भवन के कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया तो बड़ी लापरवाही और उदासीनता देखने को मिली। सीडीओ जिला अल्पसंख्यक अधिकारी के कार्यालय पहुंचे और पेंशन रजिस्टर दिखाने को कहा तो वह उपलब्ध नहीं करा पाए।

इसके अलावा और कई लापरवाही दिखी तो उन्हें कठोर चेतावनी दी। सीडीओ के इस रूख से कर्मचारी सकते में हैं।

फाइलों के रखरखाव में दिखी गजब की लापरवाही

सीडीओ शिपू गिरि सोमवार को जिला ग्रामीण विकास अभिकरण (डीआरडीए) कार्यालय में पहुंचे और सांसद विधायक निधि से संबंधित रिसीविंग फाइलें दिखाने के लिए कहा। वहां तैनात कर्मचारी ये फाइल उन्हें नहीं दिखा पाए। ऐसे में सीडीओ ने कर्मचारियों को डांटते हुए चेतावनी दी। फिर उन्होंने एआर कोआपरेटिव और जिला कृषि अधिकारी कार्यालय का भी निरीक्षण किया। सीडीओ ने डीआरडीए कार्यालय, डीसी मनरेगा, जिला अल्पसंख्यक, सहकारिता, जिला कार्यक्रम, ग्रामीण अभियंत्रण, जिला एवं अर्थ संख्या, कृषि, पिछड़ा वर्ग कल्याण, समाज कल्याण आदि विभागों के कार्यालयों का निरीक्षण किया। फाइलों के रखरखाव की समुचित व्यवस्था नहीं होने पर सख्त लहजे में तीन दिन के अंदर व्यवस्था ठीक करने का निर्देश दिया।

लंबित पेंशन समेत अन्य भुगतान पर भी किया जवाब तलब

सीडीओ ने कर्मचारियों और अधिकारियों के लंबित पेंशन, लंबित भुगतान, अभिलेखों के रखरखाव, प्रकाश की समुचित व्यवस्था पर भी अधिकारियों से सवाल जवाब किया। सभी निर्देशों का पालन करने और एक सप्ताह में परिपालन रिपोर्ट देने के लिए भी संंबंधित अधिकारियों से कहा। सीडीओ ने चेतावनी दी कि अगले निरीक्षण में यदि कोई कमी मिली तो सीधे कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान जिला विकास अधिकारी अशोक मौर्य, डीसी मनरेगा कपिल कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार राव, विकास भवन अध्यक्ष राजेंद्र कुमार त्रिपाठी आदि उपस्थित रहे। अब विकास भवन के कर्मचारियों और अधिकारियों के बीच घबराहट का माहौल बना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!