बीजेपी को हराने के लिए सभी सेक्युलर पार्टियों से गठबंधन के लिए तैयार है-शिवपाल यादव

Share this news

प्रयागराज: समाजवादी परिवर्तन रथयात्रा लेकर संगम नगरी प्रयागराज पहुंचे प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने बीजेपी सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने 2022 में बीजेपी को हटाने के लिए सेकुलर और समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन करने की अपनी बात दोहराई है।

हालांकि उन्होंने कहा है कि गठबंधन में भी समाजवादी पार्टी को ही प्राथमिकता देंगे। वहीं समाजवादी पार्टी द्वारा उन्हें तवज्जो न दिए जाने के सवाल पर कहा है कि अगर उन्हें तवज्जो नहीं दी जाएगी तो नेताजी खुद उनका प्रचार करेंगे और प्रदेश की जनता भी जवाब दे देगी।

वहीं कांग्रेस और बसपा के साथ गठबंधन पर शिवपाल सिंह यादव ने गोलमोल जवाब ही दिया है। जबकि प्रदेश में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा की बढ़ी सक्रियता और महिलाओं को 40 फ़ीसदी टिकट देने इसके साथ ही लड़कियों को मोबाइल और स्कूटी देने के चुनावी घोषणाओं पर भी प्रतिक्रिया देने से शिवपाल यादव बचते नजर आए।

उन्होंने इस मौके पर महंगाई और भ्रष्टाचार को लेकर भी योगी सरकार पर हमला बोला। शिवपाल सिंह यादव ने लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत और आगरा में एक सफाई कर्मचारी की मौत पर भी सरकार को घेरने की कोशिश की।

शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो गई है और 2022 में जनता ने परिवर्तन का मन बना लिया है। उन्होंने कहा है कि 2022 में प्रदेश में जो भी सरकार बनेगी बगैर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के सरकार नहीं बनेगी।

शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि राजनीति में अंतिम समय तक सभी विकल्प खुले रहते हैं। ऐसे में प्रदेश के सभी छोटे दलों, सेक्युलर और समान विचारधारा वाले दलों से गठबंधन का विकल्प उन्होंने अभी भी खुला रखा है। वहीं 2022 विधानसभा चुनाव में कितने सीटों पर उनकी पार्टी चुनाव लड़ेगी। इस सवाल पर उन्होंने कहा है कि समय आने पर पार्टी नेताओं के साथ बातचीत के बाद यह तय कर लिया जाएगा।

फिलहाल शिवपाल सिंह यादव सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत के बाद सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा को लेकर गंगा पार इलाके के लिए रवाना हो गए। शिवपाल सिंह यादव गंगा पार के सहसों में एक चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद प्रतापगढ़ के लिए रवाना होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!