अंतरराष्ट्रीय साइबर क्राइम गैंग के 8 शातिर ठग गिरफ्तार, अब तक 15 करोड़ की ठगी

Share this news

अमेरिकी नागरिक सहित राजस्थान और अन्य राज्यों के कई लोगों से मोबाइल पर अश्लील वीडियो दिखा उसकी स्क्रीन रिकार्डिंग कर ब्लैकमेल कर रुपये ऐंठने वाले अंतरराष्ट्रीय ठग गिरोह के 8 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. अभियुक्तों के पास से 1.87 लाख रुपये नकद, एक लग्जरी कार (एसआरवी सेवरेलेट), 12 मोबाइल और 3 एटीएम कार्ड बरामद किए गए हैं.

ठग गिरोह को पकड़ने में मिली कामयाबी के बाद एसपी तेजस्वनी गौतम ने बताया कि डीएसटी के हेड कांस्टेबल जगबीर सिंह को एक मोबाइल नंबर के बारे में सूचना मिली कि इसके द्वारा लड़की बनकर लोगों को ठगा जा रहा है. इस पर एएसपी सरिता सिंह, सीओ उत्तर विकास सांगवान (आईपीएस) के निर्देशन में विशेष टीम गठित कर कांस्टेबल इमरान से उस नंबर पर मैसेज भिजवाया गया.

कांस्टेबल से चैटिंग के दौरान अभियुक्तों ने अश्लील वीडियो दिखा स्क्रीन का वीडियो बना लिया. बाद में वीडियो वायरल करनी की धमकी दे कांस्टेबल से 10 हजार रुपये की मांग की गई. पुलिस ने 8 शातिर ठग गिरफ्तार किया है.

मोबाइल की लोकेशन लेकर रूपबास पुलिया के पास एक नीले रंग की कार को रोक उसमें बैठे तीन युवकों साजिद, असफाक मेव और राशिद उर्फ छुट्टो मेव को चेक किया तो साजिद के पास मिले मोबाइल में कांस्टेबल से हुई चैट और अश्लील वीडियो के साथ-साथ अन्य कई नंबरों पर की गई अश्लील मैसेज व वीडियो चैट मिले. इस आरोप में उन्हें गिरफ्तार कर थाना शिवाजी पार्क में मुकदमा दर्ज किया गया.

थाने लाकर पूछताछ की गई तो उन्होंने 5 अन्य साथियों गफरूद्वीन, सैफ अली खान, अकरम खान मेव, मोइन खान तथा जयपुर के मोइन के बारे में बताया, जो ठगी की रकम एटीएम से निकालकर देते थे. इस पर इन पांचों को भी गिरफ्तार कर लिया गया. ये लोग सोशल मीडिया पर दोस्ती कर अश्लील वीडियो बना वायरल करने की धमकी देकर रुपये की मांग किया करते थे.

अब तक 15 करोड़ की ठगी

यह गैंग अमेरिकी नागरिक से भी ठगी कर चुका है. आरोपियों ने अब तक 15 करोड़ की ठगी करना स्वीकारा है.

पुलिस ने बताया कि पूछताछ में अभियुक्तों ने अमेरिका में टेक्सास शहर के एक व्यक्ति तथा राज्य और बाहर के कई लोगों का न्यूड वीडियो बनाकर उनको ब्लैकमेलिंग कर अपने फर्जी खातों में रकम ट्रांसफर करवाना, फिर अलग-अलग एटीएमों से रुपये निकालने का काम करते थे. अब तक करीब 15 करोड़ रुपये अलग-अलग लोगों से ठगी कर अपने फर्जी खातों में डलवाना स्वीकार किया है. गांव के 70-80 प्रतिशत व्यक्ति इसी धंधे में संलिप्त
हैं.

जिला दौसा के गांव कोट थाना मण्डावर निवासी अभियुक्तों ने बताया कि उनके गांव के 70-80 प्रतिशत व्यक्ति सेक्सटॉर्शन कर ब्लैकमेलिंग का ही काम करते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW