यूपी के बड़े संस्थानों में कोरोना की घुसपैठ, IIT और GSVM मेडिकल कॉलेज के कई विशेषज्ञ आए चपेट में .

Share this news

यूपी कोरोना धीरे-धीरे बढ़ रहा है। आफत यह कि विदेश से एनसीआर होते हुए कानपुर आए कोरोना ने यहां के बड़े संस्थानों में घुसपैठ कर ली है। आईआईटी और जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर और छात्रों को संक्रमण ने अपनी चपेट में ले लिया है। इस बीच सोमवार को छह नए पॉजिटिव शहर के अलग-अलग इलाकों में पाए गए हैं। इससे तीन दिन में कोरोना का ग्राफ 40 पर पहुंच गया है।

कानपुर में अब तक आईआईटी में 11 पॉजिटिव मिले हैं। इनमें एक प्रोफेसर अमेरिका वाया एनसीआर कानपुर आए तो उन्होंने अपने परिजनों को भी संक्रमित कर दिया। आईआईटी के छात्र भी एनसीआर से आने के बाद कानपुर में संक्रमित पाए गए।

सीएमओ डॉ. नेपाल सिंह ने भी माना कि एनसीआर से लगातार कोरोना संक्रमण की चेन आ रही है। सर्विलांस टीम की रिपोर्ट का आकलन बता रहा है कि एनसीआर से आए संक्रमितों ने सम्पर्क में आए लोगों को भी संक्रमित कर दिया है।

साफ है कि सीटी वैल्यू इतनी है कि कोरोना संक्रमित दूसरों को संक्रमित कर सकता है। इसी कारण मेडिकल कॉलेज के स्टेम सेल विशेषज्ञ डॉ. बीएस राजपूत मुम्बई में संक्रमित हो गए। इसलिए लगातार कांटैक्ट ट्रेसिंग के निर्देश दे दिए गए हैं। अब लगातार सभी की मॉनीटरिंग की जाएगी। शासन ने भी इसके लिए कह दिया है।

प्रदेश में 193 नये मामले मिले

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया है कि प्रदेश में रविवार को 96242 सैम्पल की जांच की गई जिसमें कोरोना संक्रमण के 193 नये मामले मिले हैं। पिछले 24 घंटे में 159 लोग इलाज के बाद कोरोना से मुक्त भी हुए। राज्य में अब तक 2049679 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं। अब प्रदेश में कोरोना के कुल 1621 एक्टिव मामले हैं।

उन्होंने बताया है कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। प्रदेश में कल 01 मई रविवार को 138101 वैक्सीन की डोज दी गई। 18 वर्ष से अधिक आयु के लोंगों को पहली डोज 152991644 तथा दूसरी डोज 130790602 दी जा चुकी है। 15 से 17 वर्ष आयु वर्ग को रविवार तक पहली डोज 13362726 तथा दूसरी डोज 9389351 दी गई है। 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग को पहली डोज 5325459 तथा दूसरी डोज 380716 दी गई है। रविवार तक कुल मिलाकर 31,50,37,619 वैक्सीन की डोज दी जा चुकी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!