चार्ली हेबदो नामक मैगज़ीन मे ३३ करोड़ देवी देवताओं पर कटाक्ष करने पर मुस्लिमों ने जताई आपत्ती

Share this news

विश्व की ख्याती प्राप्त मैगजीन चार्ली हेबदो नामक मैगज़ीन ने अपने अप्रैल के अंक मे ३३ करोड़ देवी देवताओं पर कटाक्ष करते हुए लिखा है की भारत मे इतनी बड़ी संख्या मे देवी देवता निवास करते हैं लेकिन एक भी इस कोविड महामारी मे मरीज़ो को ऑकसीजन उपलब्ध नहीं करा सके।धार्मिक एवं सामाजिक संस्था उम्मुल बनीन सोसाईटी के महासचिव के अनुसार यह वही मैगज़ीन है जिसने पैग़म्बर मुहम्मद साहब का कारटून छापा था जिस पर तमाम मुस्लिम देशो सहित भारत मे भी जम कर विरोध प्रदर्शन हुआ था।

अब इस मैगजीन ने हिन्दू देवी देवताओं का अपमान किया है।जिस पर मुस्लिम समाज के लोगों ने आक्रोष व्यक्त करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद,प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मैगज़ीन के विरुध अपराधिक अभियोग पंजिकृत कराने की मांग की। अल्पसंख्यक सभा के महानगर अध्यक्ष शाहिद प्रधान ने देश के राष्ट्रपति प्रधानमंत्री व विदेशमंत्री से आग्रह किया है की चार्ली हेबदो मैगज़ीन के विरुद्ध धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ करने और हिन्दू आस्था पर चोट करने के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विरोध दर्ज कराएँ।

सूफी हसन ने फ्रांस के पैरिस से १९७० में प्रकाशित चार्ली हेबदो मैगज़ीनके एडीटर इन चीफ गैरिड बियार्ड पर अप्राधिक मुक़दमा क़ायम करने की मांग करते हुए कहा की प्रधानमंत्री को फ्रासीसी दूतावास को भारतीय देवी देवताओं को लेकर की गई अभद्रता पर देश की जनता के आक्रोश से अवगत कराना चाहिये।

अधिवक्ता बज़मी अब्बास ने आश्चर्य व्यक्त किया की भारत के ३३ करोड़ देवी देवताओं का अपमान करने वाली मैगज़ीन के खिलाफ हिन्दू वादी संगठन खामोश हैं जब्कि हिन्दू और मुस्लिमों के बीच हमेशा उग्र रहने वाले संगठन बजरंग दल,विश्व हिन्दू परिषद,राष्ट्रीय स्वयम सेवक संघ के कानो पर जूँ तक नहीं रेंगी।

मुस्लिम समाज के लोगों ने अतरसुईया मे बैठक कर चर्ली हेबदो मैगज़ीन के खिलाफ आवाज़ बुलन्द करते हुए सभी भारतीय समाज के लोगों से आपत्ती दर्ज कराने और देश के सुप्रीम लीडर से हस्ताक्षेप कर चार्ली हेबदो मैगज़ीन के विरुद्ध मामला दर्ज करने की मांग की।बैठक में उपस्थित सै०मो०अस्करी,शाहिद प्रधान,मो०आसिफ,शबी हसन,ज़ामिन हसन,बज़मी अब्बास,सूफी हसन,रज़ा अकबर,यूनुस रज़ा,सै०आसिफ हुसैन,नौशाद सिद्दीकी,सैफ अब्बास,निसार अली,मो०सुलतान, मो०आरिस ,मो०छोटू आदि मुस्लिम युवाओं ने ऑनलाईन बैठक मे जुड़ कर चार्ली हेबदो मैगजीन के खिलाफ केन्द्र सरकार से हस्तक्षेप करने की मांग की है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW