बंगाल में केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन की गाड़ी पर हमला, टीएमसी पर लगा आरोप

Share this news

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद बवाल थमता नजर नहीं आ रहा है. अब केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन पर मेदिनीपुर में हमले की खबर है. बताया जा रहा है कि उन पर केजीटी ग्रामीण विधानसभा के पंचखुड़ी में हमला किया गया है. उनकी कार के शीशे तोड़ दिए गए हैं. इस पूरी घटना का एक वीडियो भी सामने आया है.


केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने ट्वीटर पर एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो के कैप्शन में उन्होंने लिखा, ‘पश्चिमी मिदिनापुर के दौरे के दौरान मेरी गाड़ी पर टीएमसी के गुंडों ने हमला किया, शीशे तोड़ दिए गए, मेरे पर्सनल स्टाफ पर भी हमला किया गया, मुझे अपना दौरा बीच में ही छोड़कर वापस आना पड़ रहा है.
केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन की ओर से शेयर किए गए वीडियो में एक शख्स डंडे से उनकी कार पर हमला करते हुए दिखाई दे रहा है. जैसे ही वह हमला करता है, केंद्रीय मंत्री की गाड़ी का ड्राइवर गाड़ी को वापस मोड़ने लगता है, जहां पर हमला किया गया है, वहां पर टीएमसी के झंडे-बैनर लगे हुए हैं, हमले के दौरान गाड़ी का शीशा टूट जाता है और डंडा अंदर आ जाता है.

आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन, उस प्रतिनिधमंडल का हिस्सा हैं, जो भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की अगुवाई में पश्चिम बंगाल आई है. इस प्रतिनिधिमंडल में बीएल संतोष और भूपेंद्र यादव भी शामिल हैं. यह प्रतिनिधिमंडल हिस्सा में मारे गए या घायल बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर-घर जा रहे हैं और जमीनी रिपोर्ट जुटा रहे हैं.

गृह मंत्रालय ने बंगाल भेजी चार सदस्यीय टीम
इस बीच बंगाल में नतीजों के बाद हुई हिंसा पर केंद्रीय गृह मंत्रालय एक्शन में आ गया है. गृह मंत्रालय ने एक चार मेंबर्स की टीम को बंगाल भेजा है, जो हिंसा की जांच करेगी. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इससे पहले राज्य से रिपोर्ट भी तलब की थी और हिंसा को लेकर जानकारी मांगी थी.

गृह मंत्रालय द्वारा जो चार सदस्यों की टीम बंगाल भेजी गई है, उसकी अगुवाई एडिशनल सेक्रेटरी लेवल के अफसर कर रहे हैं. टीम मुख्य रूप से तीन मुद्दों की जांच करेगी जिसमें राज्य में हो रही हिंसा, ताजा ग्राउंड हालात और राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हिंसा शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW