CM फेस पर सियासी बयानों के बीच केशव प्रसाद मौर्य से मिलने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

Share this news

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज अचानक उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से मिलने उनके घर पहुंच गए हैं. करीब साढ़े चार साल में पहली बार सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव मौर्य के घर 7 कालिदास मार्ग पर गए हैं. बताया जा रहा है कि केशव मौर्य के घर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कृष्ण गोपाल पहले से मौजूद हैं.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) कोर कमेटी के सदस्यों का डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के घर लंच है. इस लंच में आरएसएस के कृष्ण गोपाल भी मौजूद हैं. इसी बीच सीएम योगी आदित्यनाथ भी अचानक केशव प्रसाद मौर्य के घर पर पहुंच गए हैं. साढ़े चार साल में मुख्यमंत्री योगी का केशव मौर्य के घर जाना बड़ी घटना है.

एक तरफ बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह लखनऊ पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओ के साथ बैठक कर रहे हैं और आगामी चुनाव की रणनीति बनाई जा रही है. दूसरी तरफ चुनाव में मुख्यमंत्री के चेहरे पर बवाल मचा हुआ है. केशव प्रसाद मौर्य कह चुके हैं कि सीएम का फेस केंद्रीय नेतृ्त्व तय करेगा.

मनमुटाव की खबरों के बीच मुलाकात

गौरतलब है कि डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बीच मनमुटाव की खबरें कई बार आ चुकी है. यह पूरा मामला दिल्ली दरबार में भी पहुंचा था. पंचायत चुनाव में खराब प्रदर्शन के बाद पार्टी हाईकमान यूपी चुनाव को लेकर सजग हो गया और नाराज नेताओं के साथ सरकार में शीर्ष पदों पर बैठे लोगों के मनमुटाव को दूर करने की कोशिश शुरू हुई.

इसी कड़ी में पहले आरएसएस के दत्तात्रेय होसबले और फिर बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष ने यूपी का दौरा किया. बीएल संतोष ने लखनऊ में तीन दिन तक बैठक की थी और केशव प्रसाद मौर्य समेत कई नेताओं से मुलाकात की थी. बीएल संतोष ने पूरी रिपोर्ट बनाकर दिल्ली हाईकमान को सौंप दी थी.

इसके बाद दिल्ली हाईकमान से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुलाकात की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात के बाद लखनऊ आते ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने राजनीतिक नियुक्तियां शुरू कर दी थी, जो कई महीने से नहीं हुई थी. इसके साथ ही संगठन में भी खाली पदों को भरा जाना शुरू कर दिया.

इस बीच बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बयान दे दिया कि 2022 का चुनाव बीजेपी योगी आदित्यनाथ के फेस पर लड़ेगी. इस बयान पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सीएम का फेस दिल्ली तय करेगा. दोनों के बयानों से लग रहा था कि सीएम योगी और केशव प्रसाद मौर्य के बीच बर्फ अभी पिघली नहीं है.

बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष एक बार फिर लखनऊ में डेरा डाले हुए हैं और पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे हैं. इन सबके बीच सीएम योगी आदित्यनाथ के अचानक डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य के घर पहुंचने को लेकर कई तरह की अटकलबाजी शुरू हो गई है. हालांकि, सरकार का कहना है कि यह औपचारिक मुलाकात है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
error: Content is protected !!
Qtv India

FREE
VIEW