पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव पर मंत्री नन्दी ने सपरिवार मनोकामना पूर्ति मंदिर में किया रुद्राभिषेक

Share this news

उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री एवं प्रयागराज शहर दक्षिणी विधायक नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने मंगलवार को हजारों कार्यकर्ताओं, समर्थकों व पारिवारिक सदस्यों के साथ अपना पुनर्प्रात जन्मोत्सव मनाया। जिस मंदिर और मंदिर में स्थापित भगवान भोलेनाथ ने मंत्री नन्दी को 12 वर्ष पूर्व बचाते हुए जीवनदान दिया, उसी प्राचीन मनोकामना पूर्ति मंदिर में फिर एक बार पहुंचकर मंत्री नन्दी ने विधिवत मंत्रोच्चारण के बीच पूजन अर्चन और रुद्राभिषेक किया। प्रयागराज की महापौर श्रीमती अभिलाषा गुप्ता नन्दी भी मौजूद रहीं।

मंत्री नन्दी ने भगवान भोलेनाथ के साथ ही प्रयागराज की देवतुल्य जनता के प्रति भी आभार व्यक्त किया। जिनके आशीर्वाद और शुभकामनाओं के बल पर मंत्री नन्दी मौत को भी मात देकर न सिर्फ स्वस्थ हुए, बल्कि दुबारा कैबिनेट मंत्री बनने के बाद तीसरी बार उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री की जिम्मेदारी संभाली।

करीब तीन घंटे तक विधिवत पूजन अर्चन और रुद्राभिषेक के बाद मंत्री नन्दी ने प्रसाद वितरित कर प्रयागराज शहर, गंगापार, यमुनापार, प्रतापगढ़, कौशांबी के साथ ही कई राज्यों से आए समर्थकों का अभिवादन स्वीकार किया।

वहीं पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव के अवसर पर हजारों लोगों ने फेसबुक, ट्वीटर, इंस्टाग्राम आदि के माध्यम से उन्हें बधाई दी।

बहादुरगंज स्थित मनोकामना शिवमंदिर में पत्नी एवं मेयर अभिलाषा गुप्ता के साथ रुद्राभिषेक करने के बाद नंदी ने कहा कि भगवान के आशीर्वाद और लोगों के स्नेह की वजह से ही वह अपना पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव मना रहे हैं। नहीं तो 11 वर्ष पहले आज ही के दिन गुंडों और माफिया ने कुछ अलग ही प्लानिंग बना कर रखी थी।

12 जुलाई को ही हुआ था मंत्री नंदी पर जानलेवा हमला
12 जुलाई 2010 को ही कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर जानलेवा हमला हुआ था। इस मामले में 50 से ज्यादा लोगों की गवाही हो चुकी है और एमपीएमएलए कोर्ट में लगातार सुनवाई चल रही है। बता दें कि 12 जुलाई 2010 को बहादुरगंज क्षेत्र में बसपा सरकार में तत्कालीन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी पर रिमोट से विस्फोट कर जानलेवा हमला किया गया था। इसमें घायल राकेश मालवीय और पत्रकार विजय प्रताप सिंह की मौत हो गई। इस प्रकरण में विवेचना के बाद पूर्व विधायक विजय मिश्रा, दिलीप मिश्रा सहित 16 अभियुक्तों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है। इसमें से एक राजेश पायलट की मौत हो चुकी है।

मंत्री नन्दी ने कहा कि आरडीएक्स हमले में घायल होने के बाद कई महीने तक चले इलाज के बाद अस्पताल से सही-सलामत घर आना किसी चमत्कार से कम नहीं था।

बोले-सोशल मीडिया पर लोगों का स्‍नेह व आशीर्वाद मिला
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि कहा कि भगवान शिव की उपासना के इस पवित्र श्रावण मास में भगवान शिव का रुद्राभिषेक संपन्न हुआ। आज पूरे देश भर से लाखों लोगों का मैंने सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों से फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर स्नेह और आशीर्वाद प्राप्त किया। इसके लिए मंत्री ने सबका हृदय से आभार प्रकट किया।

मंत्री नन्दी का पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव पूरे प्रदेश में साहस दिवस के रुपए मनाया गया। 75 जनपद में पूजन अर्चन, प्रसाद वितरण आदि का आयोजन।हुआ।

पुलिस, पीएसी के साथ सीआईएसएफ रही तैनात
पुनर्प्राप्त जन्मोत्सव के लिए पुराने शहर के सुलकी चौराहा, मानसरोवर चौराहा आदि इलाके में जहां ट्रैफिक डायवर्जन रहा। वहीं सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहे। पुलिस पीएसी के साथ ही सीआईएसएफ के जवान सुरक्षा में तैनात रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!