जिलाधिकारी ने बेली अस्पताल का औचक निरीक्षण करते हुए डेंगू पेसेंट के लिए बनाये गये वार्ड की व्यवस्थाओं का लिया जायजा

Share this news

जिलाधिकारी ने डेंगू वार्ड में भर्ती मरीजों का हाल-चाल जाना व उनसे चिकित्सा सुविधाओं के बारे में ली जानकारी

डेंगू से पीड़ित भर्ती मरीजों के प्लेटलेटस की रोजाना जांच कराये जाने के दिये निर्देश

जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर में साफ-सफाई सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थायें चुस्त-दूरूस्त बनाये रखने के दिए निर्देश

जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री ने शनिवार को बेली अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने बेली अस्पताल में डेंगू पेसेंट के लिए बनाये गये वार्ड की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बेली अस्पताल के चिकित्सा अधिकारी से वहां उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।

उन्होंने बेडों की संख्या सहित अन्य आवश्यक व्यस्थाओं को चुस्त-दूरूस्त बनाये रखने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने डेंगू वार्ड में भर्ती दो मरीज सीता और यस शर्मा से बातचीत कर उनका हाल-चाल जाना और उनसे चिकित्सा सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। दोनों मरीजों के द्वारा जिलाधिकारी को बताया गया कि अब उनके स्वास्थ्य में पहले से बहुत सुधार है।

चिकित्सकों द्वारा बताया गया कि दोनों मरीजों के प्लेटलेटस में सुधार हो रहा है। जिलाधिकारी ने चिकित्सकों से डेंगू से पीड़ित भर्ती मरीजों के प्लेटलेटस की रोजाना जांच कराये जाने के लिए कहा है। उन्होंने भर्ती मरीजों से दवाओं की उपलब्धता के बारे में भी जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने 20 बेड के बनाये गये डेंगू वार्ड में देखा की सभी बेड मच्छरदानी से युक्त थे व साफ-सफाई की व्यवस्था अच्छी थी।

उसके उपरांत बेली में बाल शिशू वार्ड में सामान्य वायरल फीवर के लिए बनाये गये वार्ड का निरीक्षण किया। वार्ड में भर्ती बच्चों से जिलाधिकारी ने बातचीत की व बच्चों से चिकित्सालय द्वारा उपलब्ध कराये जा रहे नाश्ता, खाना के गुणवत्ता के बारे में जानकारी ली, जिसपर बच्चों द्वारा बताया गया कि खाना स्वादिष्ट व अच्छा मिल रहा है।

अस्पताल में भर्ती बच्चों के परिजनों से मिल रही चिकित्सा सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। परिजनों द्वारा बताया गया कि अब हमारे बच्चों की सेहत में पहले से काफी सुधार है। जिलाधिकरी ने वार्ड में भर्ती मरीजों की केस हिस्ट्री चेक की तथा सभी मरीजों की केस हिस्ट्री रखने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने वहां मौजूद चिकित्सकोें से जानकारी ली कि प्रत्येक दिन ओपीडी में फीवर के कितने मरीज आ रहे है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी, बेली अस्पताल की सीएमएस सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!