माघ मेला आस्था के नाम पर मनमानी, प्रयागराज माघ मेले में कोरोना प्रोटोकॉल की उड़ी धज्जियां, अबतक 72 पॉजिटिव

Share this news

माघ मेला 2022: मेले में कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या अब बढ़कर 72 हो गई है. सूत्रों के मुबातिक प्रशासन मेले में कम जांच करके कम पॉजिटिव दिखाने का खेल खेल रहा है.

प्रयागराज के माघ मेला में महामारी के बीच आस्था के नाम पर मनमानी हो रही है. मेले में कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ रही हैं. तमाम सवालों और आशंकाओं के बीच प्रयागराज में कल मकर संक्रांति का स्नान हुआ. रात 9 बजे तक 8 लाख लोगों के डुबकी लगाने का अनुमान है. इस बीच मेले में तीन लोग और पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद संक्रमित लोगों की संख्या 72 हो गई है.

दो जवानों और एक श्रद्धालु की रिपोर्ट पॉजिटिव आई

शुक्रवार को पुलिस के दो जवानों और एक श्रद्धालु की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. जिसके बाद मेले में कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या अब बढ़कर 72 हो गई है. सूत्रों के मुबातिक प्रशासन मेले में कम जांच करके कम पॉजिटिव दिखाने का खेल खेल रहा है. शुक्रवार को मेला क्षेत्र में कितने लोगों की जांच हुई, इसका अधिकारी कोई पुख्ता जवाब नहीं दे रहे हैं. प्रयागराज जिले में शुक्रवार को 402 लोग संक्रमित पाए गए हैं.

सवाल ये है कि-

  • प्रयागराज के माघ मेले में रोजाना कोरोना का बम फूट रहा है तो फिर मेले का आयोजन क्यों?
  • लगातार माघ मेले में कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हो रही है ऐसे में क्या मेले से मुसीबत नहीं बढ़ेगी?
  • एक बड़ा सवाल ये भी कि आखिरकार प्रशासन ने हरिद्वार में हुए कुंभ मेले से सीख क्यों नहीं ली?

बता दें कि माघ मेला 14 जनवरी से अगले 47 दिनों तक चलेगा. 1 मार्च को महाशिवरात्रि के अवसर पर मेले का समापान होगा और इन 47 दिनों तक देश-विदेश से साधु-संतों और लोगों का जमावड़ा देखने को मिलेगा. आज से मेले में झूले और प्रदर्शनीयों का दौर भी शुरू हो सकता है.

(भाषा इनपुट एबीपी न्यूज़)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: Content is protected !!